Signal app क्या है: signal app के सिक्योरिटी फीचर क्या है?

दोस्तों जब से व्हाट्सएप ने अपनी प्राइवेसी पॉलिसी को चेंज किया है तब से लोगों में एक सेफ्टी ऐप को लेकर होड़ चल रही है जिसमें Siganl app ज्यादा चर्चा में है। ऐसा इसलिए हुआ जब टेस्ला कंपनी के संस्थापक एलोन मस्क ने कहा कि यदि आप प्राइवेसी को लेकर ज्यादा सीरियस है तो आप सिगनल ऐप यूज कर सकते हैं। तब से इसकी चर्चा और ज्यादा बढ़ गई है। और वास्तव में यदि आप डाटा सिक्योरिटी को लेकर ज्यादा सचेत हैं तो आपको व्हाट्सएप बंद ही कर देना चाहिए और siganl app का इस्तेमाल करना चाहिए, तो आइए जानते हैं Signal app क्या है और सिगनल ऐप की विशेषताएं क्या है।

सिगनल ऐप क्या है (what is signal app in Hindi):-

दोस्तों सिगनल ऐप एक ऐसा मैसेंजर एप है जो बिल्कुल व्हाट्सएप की तरह ही काम करती है। इसके फीचर कहीं-कहीं तो व्हाट्सएप ऐप मैसेंजर से भी आगे है। इसमें कई ऐसे फीचर है जो अभी तक व्हाट्सएप में मौजूद नहीं है यह एक काफी सिक्योर ऐप है। जिसमें one to one के साथ-साथ इसमें ग्रुप चैटिंग की भी सुविधा उपलब्ध है।

Signal app को signal foundation and siganl messenger LLC के द्वारा डेवलप्ड किया गया है। इसको Moxie Morlinespike के द्वारा बनाया गया है। चुकी यह सिगनल ऐप non-profiatable कंपनी के द्वारा बनाया गया है। जैसे कि Mozilla Firefox जो non-profitable कंपनी के द्वारा बनाया गया है। यही कारण है कि इस ऐप को बनाने के लिए व्हाट्सएप के co-founder Brian Acton ने पैसा दिया था डोनेशन के तौर पर। क्योंकि यह कंपनी सिर्फ डोनेशन पर चलती है।

और यही कारण है कि एलोन मस्क (elon musk) ने भी इसे इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित किया है। इसके पहले भी भी ट्विटर के सीईओ (CEO) Jack Dorsey ने इसे इस्तेमाल करने के लिए कहा था। Edwan Snoden जो को USA के प्राइवेसी पॉलिसी के issue के एडवोकेट है उन्होंने भी इसे इस्तेमाल करने के लिए कहा था।

इसको डाउनलोड करने के लिए दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

Signal app download link: play store

सिगनल ऐप सेफ क्यों है(why signal app is safe in hindi):-

दोस्तों आइए जानते हैं कि सिगनल ऐप में क्या सिक्योरिटी फीचर (Security Feature) है जो इसको व्हाट्सएप(whats app) के प्राइवेसी पॉलिसी(privacy policy) से ज्यादा बेहतर बनाती है।

Signal app क्या है।
सिक्योरिटी फीचर
  1. सबसे पहला कारण अगर इसे इस्तेमाल करने का अगर बताया जाए तो यह है कि यह नॉनप्रॉफिट टेबल फाउंडेशन (non-profiatable foundation) के अंतर्गत डिवेलप किया गया है।
  2. अतः चुकी इसे प्रॉफिट कामना नहीं है तो यह आपके डाटा को चुराने का भी प्रयास नहीं करेगा।
  3. यह एक cross-platform encrypted messaging service है। जो को सबसे सेफ service है।
  4. यह ऐप बनाने वाला कोई बहुत बड़ा corporation नहीं है। जो फायदा के आधार पर आपके डाटा को चुरा कर फायदा उठाएगी।
  5. सबसे महत्वपूर्ण बात यह को यह ऐप open source app है जिसको कोई भी software developer आसानी से देख सकता है । और उसकी जांच कर सकता है।
  6. इसमें सभी प्रकार के डाटा end-to-end encrypted रहते है। यह तक की इसमें भेजे जाने वाले gif भी encrypted रहते है। लेकिन अगर हम व्हाट्स ऐप की बात करे तो इसमें gif दिखने वाले कंपनी giphy जो आपके डाटा को फेसबुक से शेयर करती है।
  7. इसमें आप कोई स्क्रीन शॉट भी नहीं ले सकते जो को अभी तक व्हाट्स ऐप मे मौजूद नहीं है।
  8. इसमें एक और सिक्योरिटी फीचर है जिसको Incognito keyboard feature कहते है। इसके द्वारा यदि आपक Incognito keyboard का इस्तेमाल करते है तो आपके द्वारा टाइप किया गया किसी भी प्रकार का वर्ड save नहीं किया जाएगा ।

क्या सिगनल ऐप सेफ है(Is siganl app safe):-

जी हां यह सिगनल ऐप बिल्कुल सुरक्षित है। अगर आपको अपने डाटा को लेकर ज्यादा सीरियस है तो सिग्नल एप्प सुरक्षित है या नहीं इस बात का पता आपको किसी और ऐप के डाटा लिंकिंग की जानकारी से पता लगा सकते हैं। आपको चित्र में दिख रहा होगा कि फेसबुक और आपके बीच कौन कौन सा डाटा लिंक रहता है उसकी लिस्ट में आपको कोई भी ऐसा डाटा नहीं मिलेगा जो आप से लिंक नहीं है जैसा कि आप देख सकते हैं की इसकी लिस्ट कितनी बड़ी है। जो फेसबुक एक्सेस कर सकता है।

Whats app data linked to you
Whats app data link to you
Facebook data linked to you
Facebook messenger data link to you

इसी प्रकार आप व्हाट्सएप में भी देख सकते हैं कि लगभग आपका सभी प्रकार के डाटा जैसे location, contact, camera और डाटा स्टोरेज आदि सभी प्रकार के डाटा उससे लिंक रहता है। लेकिन वही अगर सिगनल ऐप की बात करें तो इसमें किसी भी प्रकार का डाटा लिंक नहीं रहता है।

chandu
chandu

hello दोस्तों ये आर्टिकल थोड़ा भी helpful लगा तो कमेंट करे।

Leave a comment